Register | Login

मलेरिया एक तरह का वायरल फीवर है। मलेरिया पूरे साल में कभी भी हो सकता है। मगर मानसून में इसका खतरा ज्यादा बढ़ जाता है क्योंकि उमस वाला यह मौसम मच्छरों को पनपने के लिए एक उपयुक्त माहौल प्रदान करता है। जानकारी के लिए बता दें कि मलेरिया फैलाने वाला मच्छर अगर काट ले तो उसके लक्षण 9 से 14 दिन के भीतर दिखाई देने लगते हैं

Who Voted for this Story


Comments


irkrahulraj
68 days ago
- 0 +
मलेरिया के मच्छर ज्यादातर गंदे और दूषित पानी में पनपते हैं। चाहे वह पार्क हो या फिर आपका बाथरूम, जहां भी जमा हुआ पानी होगा वहां मलेरिया के मच्छर हो सकते हैं। बच्चे पानी और मिट्टी के संपर्क में ज्यादा रहते हैं, इसलिए उन्हें मलेरिया होने की आशंका ज्यादा रहती है।




London8 is an open source content management system that lets you easily create your own social network. Submit your Links to get faster indexing and rich Google link juice!

Username:

Password:

Remember:
Saved Stories